Saturday, July 4, 2009

करत-करत अभ्यास के जडमति होत सुजान--------------------

मेहनत का फ़ल मीठा होता है.................बहुत-बहुत आभार सागर जी का.................जिनकी मदद से अपना पहला एकल गीत पोस्ट करने में सफ़लता मीली..................(अब भला कीसी को पसंद आये या न आये सुनना तो पडेगा ही.........और सुन लिया तो बताना भी पडेगा कि कैसा लगा..........हा हा हा )



जीना इसी का नाम है...






2 comments:

हिमांशु । Himanshu said...

बहुत ही खूबसूरत गाया है आपने । गीत तो खूबसूरत है ही।

सागर नाहर said...

बहुत बढ़िया गाया आपने।