Wednesday, November 7, 2012

सितारे की चमक ...

वैसे तो सूरज को दीपक दिखाने वाली बात है पर एक प्रयास किया है पढ़ने का--

आज सुनिये एक ऐसे सितारे की लिखी कहानियाँ जिसकी चमक बढ़ती जा रही है ....



(बिना सुने पोस्ट करने की अनुमति देने के लिए आभार!)





और  पढ़ने को यहाँ है  ...कहानियाँ


यहाँ आप इनकी किताब  "चौराहे पर सीढ़ियाँ "लेने के लिये  क्लिक कर सकते हैं

10 comments:

Akash Mishra said...

कहानियों के वो पात्र जिनकी जगह हम आसानी से कभी भी आ सकते हैं , चाहे वो पेन्सिल के टुकड़े इकट्ठे करने वाली कहानी हो या ब्लैक बोर्ड रंगने वाली , सब अपनी सी लग रही थीं |
बहुत बहुत आभार इतनी अच्छी कहानियाँ पढवाने के लिए|

सादर

yogendra pal said...

आपकी यह आवाज अब मेरा ब्लॉग सुनो पर भी सुनी जा सकती है लिंक है किशोर चौधरी की सात प्रेम कहानियाँ

Udan Tashtari said...

किशोर मेरे प्रिय लेखकों में हैं-यह किताब तो मँगाना ही है.....

संजय @ मो सम कौन ? said...

ORDER PLACED.

Kishore Choudhary said...

यात्रा कर रहा था इसलिए सुन नहीं पाया था। अब सुन लिया है। आपने इसे बहुत आत्मीयता से पढ़ा है। बहुत सारा आभार।

योगेंद्र पाल जी को भी धन्यवाद।

प्रवीण पाण्डेय said...

जाकर सुनते हैं, लैपटॉप पर।

Ramakant Singh said...

खुबसूरत प्रतीकात्मक कहानियां उससे भी शानदार उसे आवाज दी गई . एक बात कहूँ , रोको मत, जाने दो.... और रोको, मत जाने दो *****को सार्थक करती अर्चना चाव जी आवाज कहानियों को नया अंदाज़ और पूर्णता देती है

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

आनन्द!!!!

यशवन्त माथुर said...

पिछली टिप्पणी में गलत सूचना के लिये खेद है ---

दिनांक 16 /12/2012 (रविवार)को आपकी यह बेहतरीन पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपकी प्रतिक्रिया का स्वागत है .
धन्यवाद!

Anonymous said...

Hello. And Bye.