Tuesday, February 15, 2011

एक सफ़र मेरे मोबाईल के केमरे से.......मेरे हाथ के साथ ...चलती ट्रेन में ली गई कुछ तस्वीरें मेरी पहली कोशिश...









16 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

अरुण, यह मधुमय देश हमारा।

सतीश सक्सेना said...

smile please !

Atul Shrivastava said...

अच्‍छी तस्‍वीरें और जैसा कि सतीश जी ने कहा, smile please !

राज भाटिय़ा said...

बहुत सुंदर चित्र, बाहर हरियाली ही हरियाली नजर आ रही हे.
धन्यवाद

दीपक 'मशाल' said...

good one

सुशील बाकलीवाल said...

खूबसुरत दृश्य...

संजय कुमार चौरसिया said...

sundar tasveeren

संजय भास्कर said...

सुंदर तस्‍वीरें

संजय @ मो सम कौन ? said...

अच्छी तस्वीरें हैं। सतीश सक्सेना जी का आदेश क्यों नहीं मानतीं आप?

Kajal Kumar said...

वाह जी बल्ले बल्ले

सतीश सक्सेना said...

@ मो सम कौन !
आदेश नहीं संजय ...यह हिम्मत मेरी नहीं ,
याद रखना अर्चना जी स्पोर्ट टीचर हैं ... :-)

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

ये नहीं पूछुँगा कि कहाँ की तस्वीरें हैं.. निश्चित ही इस देश की आत्मा की तस्वीरें हैं.. और मेरे पिता जी का ऑफिस (ट्रेन)भी!!

उन्मुक्त said...

जिस कार्य के लिये जा रही हैं वह प्रसन्नता से पूरा हो।

Ram A Singh said...
This comment has been removed by the author.
Ram A Singh said...

sare jahan se achchcha hindustahamar.
www.maibolunga.blogspot.com

ajay yadav said...

बहुत खूबसूरत