Saturday, January 17, 2015

शादी की तीसरी सालगिरह ...

आज से तीन साल पहले आज के दिन ..... संगीत का आनन्द लेने के लिए लिंक जरूर खोलें ..






 कितनी जल्दी समय बीता.... सुख-दुख के पल बीते
 तीसरी सालगिरह आने को है ....
खूब खुश रहें पल्लवी-निलेश ...और मायरा उनके जीवन मे सातों रंग भरे ...


वत्सल-नेहा एक अलग परिक्षा पास करने को है .... :-)
 ईश्वर से प्रार्थना है ,आने वाले वर्षों में उनके सपने पूरे हों.....
आपका स्नेह बना रहे ...

3 comments:

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

शुभाशीष! परमात्मा सदा सुखी और सफल बनाए रखें!

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बधायी हो।
--
आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल सोमवार (19-01-2015) को ""आसमान में यदि घर होता..." (चर्चा - 1863) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ...
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Kavita Rawat said...

शादी की तीसरी सालगिरह पर हार्दिक शुभकामनाएं!