Monday, June 12, 2017

व्हाट्स एप मैत्री का अंत


व्हाट्स एप पर नए नंबर से Hiii  के बाद एक प्रश्न और आगे दो टेक्स्ट मेसेज तीन फ़ोटो मेसेज और अंत में फिर वही प्रश्न...

टेक्स्ट मेसेज में पहले का अंश -
परखो तो कोई अपना नहीं
समझो तो कोई पराया नहीं
Good morning

दूसरे का अंश -
सुख दुख तो अतिथि हैं
बारी बारी से आएंगे चले जाएंगे
यदि वो नहीं आएंगे तो
हम अनुभव कहां से लाएंगे
Good morning

फ़ोटो मेसेज में पहला -



दूसरे में -
सुबह की राम राम

तीसरे में-
Enjoy your sunday
(अंग्रेजी में ही, चाय के भरे हुए कप पर )
फिर दो बार वही प्रश्न और एक नया प्रश्न

(इतना लिखते लिखते 3 मेसेज और आ गए , चेक किया तो तीन फ़ोटो और थे पहला फिर एक चाय का कप पर इस बार हाथ में पकड़ा और उस पर दो चिड़ियाएँ बैठी थी good morning पकड़े
दूसरा -

 और तीसरे में लिखा हुआ है-
यकीन और दुआ
नज़र नहीं आते
नामुमकिन को
मुमकिन बना देते है
Good morning

इतने में एक और मेसेज
वाक्य टपक पड़ा -
Aap ko nhi karna he mat kar na.....

अब आप पहले प्रश्न जान लें -
पहले बार बार रिपीट होने वाला प्रश्न-
Aap kha se ho

और दूसरा -
Aap moje se friendship karo ge

...और मैनें इस मासूम सी बच्ची की प्रोफ़ाईल फ़ोटो वाले नंबर को ब्लॉक कर दिया... दिमाग का दही बना देने के एवज में .......
बादलों से ढँके एक खूबसूरत रविवार की सुबह - सुबह ...

5 comments:

देवेन्द्र पाण्डेय said...

अनचाहे मैसेज बड़ी समस्या है वाट्स एप का।

अर्चना चावजी Archana Chaoji said...

सही आप भाषा से ही छंटाई कर सकते हैं,मित्रों की :-)

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल गुरूवार (15-06-2017) को
"असुरक्षा और आतंक की ज़मीन" (चर्चा अंक-2645)
पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक

Udan Tashtari said...

ठीक ही किया...

प्रदीप नील वसिष्ठ said...

किसी भी महिला के लिए सबसे बड़ी आफत यही है। एक दो बार जवाब दे दिया तो रोज प्रश्नों की झड़ी :
कैसी हो डिअर ?.
खाना खाया ?
अपना ख्याल रखा करो।