Wednesday, June 28, 2017

रविशंकर श्रीवास्तव जी के व्यंग्य का पॉडकास्ट


व्यंग्य की जुगलबंदी के अंतर्गत "खेती" विषय पर लिखे गए रविशंकर श्रीवास्तव जी   




के ब्लॉग "छींटे और बौछारें " पर प्रकाशित व्यंग्य -


भारतीय खेती की असली, आखिरी कहानी

यहाँ  सुनिए -



  इसे आप यहां भी सुन सकते हैं -


हास्य-व्यंग्य पॉडकास्ट - जुगलबंदी - खेती


1 comment:

Ravishankar Shrivastava said...

बहुत बहुत धन्यवाद। व्यंग्य में नाटकीय प्रभाव आ गया है जिससे इसका मजा और बढ़ गया है।