Sunday, October 8, 2017

करवा चौथ

नास्तिक/आस्तिक,
आस्था/अनास्था,
व्रत/उपवास,
चाँद,छलनी...
और करवा चौथ
जिंदा रखने को !

कोई करे,न करे,
उसकी मर्जी!
मगर
फेसबुकी ट्रेंड्स!!! के बीच -
यहाँ मरना भी कौन चाहता है !....😊😊

एक फोटो में पश्चिम में सुबह का चाँद है,तो दूसरी में भले नज़र न आए पर पूरब-और पश्चिम के मध्य बादल की चमक बता रही है कि दूर पूरब में सूरज निकला है...
एक और चित्र में-
इंद्रधनुष बनते-बनते राह गया ...काले बादल नीचे उतर आए हैं...(सारे फ़ोटो आज सुबह के लिए हुए )

4 comments:

Onkar said...

बहुत सुन्दर

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल सोमवार (09-10-2017) को
"जी.एस.टी. के भ्रष्टाचारी अवरोध" (चर्चा अंक 2751)
पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
--
करवाचौथ की
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

HARSHVARDHAN said...

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन भारतीय वायुसेना दिवस और ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।

सु-मन (Suman Kapoor) said...

बहुत बढ़िया