Thursday, February 4, 2010

अब ये भी कोई बात है ...................................कि बताते हुए भी .................

बहुत दिनों के बाद लिख रही हू --------------------शायद आप लोग भी यही सोच (?????) रहे होगे |अबआपसे क्या बताऊ बताते हुए शर्म आने लगी है ,क्योकि जिसे भी बताया वो पहले तो हँसता है , फिर आश्चर्य करताहै | अब जो हुआ है वो ही तो बताउगी !!!! सो आपको भी बता ही देती हूँ ----------------
मेरे पैर में फ्रेक्चर हुआ है
कैसे???
टेबल-टेनिस खेलते समय ..........
हा,हा,हा,हा,हा ..............ये भी कोई खेल है जिसमे हड्डी टूट गई ??
हां है तो शर्म की बात ही .............कोई मैदानी खेल खेलते समय टूटती तो बताने में भी अच्छा लगता ,अब तक पूरीजिंदगी खेलते हुए ही बिता दी पर एक बार भी हड्डी नहीं टूटी ,एक तो ऐसा पहली बार हुआ और वो भी ऐसे खेल में ??????????
आगे
का अनुभव बाद में ................(.पैर में दर्द होना शुरू हो गया है ज्यादा देर बैठना मना है ).............
.........

8 comments:

डॉ० कुमारेन्द्र सिंह सेंगर said...

क्या पूरी टेबिल लेकर खेल रहीं थीं आप??
आराम करिए.. शुभकामनायें

डॉ० कुमारेन्द्र सिंह सेंगर said...
This comment has been removed by the author.
Udan Tashtari said...

हम नहीं हँसे...बस, आपके शीघ्र स्वास्थय लाभ की कामना करते हैं.


वैसे, अचरज जरुर है कि टेबिल टेनिस में पैर की हड्डी??

M VERMA said...

शीघ्र आप स्वस्थ हों -- शुभकामना

संगीता पुरी said...

आश्‍चर्य तो हुआ .. पर ये भी कोई हंसने की बात है .. आप शीघ्र स्‍वस्‍थ हों .. शुभकामनाएं !!

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

टेबल टैनिस तो सिर्फ चोट लगने का एक बहाना बन गया...ये समझिए कि उस समय चोट लगनी थी चाहे कैसे भी!
शुभकामनाऎँ!!!

हिमांशु । Himanshu said...

जरूर चौंके हम, पर चोट लगनी थी सो लग गयी!

स्वस्थ हो जायें जल्दी से ! शुभकामनायें ।

Sanjeet Tripathi said...

कैसे लगी से महत्वपूर्ण यह है कि आप जल्द स्वस्थ हो जाएं। शुभकामनाएं