Friday, February 5, 2010

हां भाई हां ...........................मेरी ही है.....................

-------------------विश्वास नहीं हुआ ना तो अब देख भी लिजीये..........सच में टूटी है..............





--------------------माँ हो तो ऐसी ......माँ के साथ-------- ओंल इज वेल --------

--------------------धन्यवाद
शुभकामनाओं के लिए .........!!!!!!!!!!!!!!!!

9 comments:

दिगम्बर नासवा said...

फ़िक्र न करें जल्दी ही ठीक हो जाएँगी आप ........... हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ हैं ...........

RAJNISH PARIHAR said...

शीघ्र स्वास्थय लाभ की कामना ...

अनिल कान्त : said...

आप जल्द से जल्द अच्छी हो जायें यही दुआ है

M VERMA said...

यकीन तो पहले ही हो गया था अब पक्का यकीन हो गया -- सबूत जो सामने है.
शीघ्र स्वास्थ्यलाभ की शुभकामना

Udan Tashtari said...

कहाँ मना किये थे..न हँसे थे..ऐसे ही मान गये थे..मगर फिर भी ये अच्छा रहा..माँ के दर्शन हो गये..प्रणाम माता जी को. आपको शुभकामनाएँ.

निर्मला कपिला said...

माँ की दुयाओं का असर खिले चेहरे पर दिख रहा है।शीघ्र स्वास्थय लाभ के लिये शुभकामनायें

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

पलस्तर चढ़ने पर भी इतनी खुशी देखकर अच्छा लगा. चलो माँ का सान्निध्य कुछ ज़्यादा मिलेगा. फिर भी हम तो आपके त्वरित स्वास्थ्य लाभ की ही कामना कर रहे हैं.

सागर नाहर said...

भई हम तो एकदम ही सुस्त किस्म के जीव हैं। सबसे आलसी ब्लॉगर का खिताब का सबसे बड़ा हकदार मैं ही हूं।
किसी का जन्म दिन हो तो मैं बधाई दो महीने बाद दे कर आता हूँ, और देखिये आपका फ्क्चर हो गया और मैं आपकी "सुखसाता" तीन महीने बाद पूछ रहा हूं। जब कि आफ दौड़ने और डांस करने लगी होंगी।
:)

सागर नाहर said...

और हां माताजी को भी प्रणाम।