Friday, February 26, 2010

मिलिए इस हास्य फुहार करने वाले नन्हे कलाकार से ---------

ये है मेरा ६ वर्षीय भतीजा सुयश .........

समझ नहीं पाती वों ऐसा सोच कैसा लेता है .............






........कल कि बात है ....................


१- हुआ कुछ यू कि कल स्कूल में उसे इंग्लिश टेस्ट में पांच में से साढ़े चार अंक मिले .................घर आने परख़ुशी-ख़ुशी अपनी बहन सुहानी (१२ वर्ष ) कों बताया ......................सुहानी उसे चिढाने के लिए बोलने लगीये फोर्टी फाइव है ....................तो सुयश का जबाब था -------SSSSSSSSSS मैंने महामुकाबले (स्टार प्लस पर आने वाला एक संगीत का कार्यक्रम ) से सब सीख लिया है ये पॉइंट फाइव है ..................

- होमवर्क करने में उसका मन नहीं लग रहा था ..........मै उसके लिए स्वेटर बना रही थी .तो मैंने एक शर्त रखी---
कि मेरा स्वेटर पहले पूरा हो जाएगा तो मै युगांश (भतीजे के बेटे)) कों दे दूंगी ,और अगर तुम्हारा वर्क पहले पूराहोगा तो स्वेटर तुम्हारा ..................थोड़ी देर तक तो वो जल्दी -जल्दी करता रहा फिर पास बैठी मेरी भाभी से बोलामै आपके साथ रेस करूँगा -----भाभी ने कहा हां बेटा ठीक है ------मै तो जल्दी नहीं बना सकती -------सुयशका प्रश्न था -------ये जल्दी बनाते है --------स्पोर्ट टीचर है इसके लिए ???

----अब कहो-------- ऐसी बाते सुनकर हंसी आये बिना कहा रह सकती थी -----------------आप भी शायद पढ़कर हंस रहे होंगे !!!!!!!!!!!!!!!
और हमारे हीरो की तस्वीरे कैसी लगी ???

होली की शुभकामनाए

6 comments:

संगीता पुरी said...

इस नन्‍हे कलाकार का क्रियाकलाप अच्‍छा लगा .. आपलोगों को भी होली की शुभकामनाएं !!

Suman said...

nice

Udan Tashtari said...

सॉलिड हीरो है...प्यारा बच्चा..बहुत प्रतिभाशाली है. :)


होली की अनेक शुभकामनाएँ.

निर्मला कपिला said...

ये आजकल के बच्चे भी ना ---- िस कलाकार को बहुत बहुत आशीर्वाद्

राज भाटिय़ा said...

बहुत सुंदर लगा जी आप का यह हीरो

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

सही कलाकार है यह तो.