Wednesday, April 13, 2011

नवरात्रि पर्व ५- श्वेता कोकाश की कविता

नवरात्रि पर्व के पंचम  दिवस पर "शरद कोकास" नामक ब्लॉग  पर प्रकाशित कविता----
अनुवादक- शरद कोकास

6 comments:

संजय भास्कर said...

बहुत खूबसूरत
खूबसूरत प्रस्तुति ! बधाई एवं शुभकामनायें

संजय भास्कर said...

बहुत खूबसूरत
खूबसूरत प्रस्तुति ! बधाई एवं शुभकामनायें

प्रवीण पाण्डेय said...

पढ़ चुके हैं प्रेमपगी दो कवितायें, सुनने में और अच्छा लगा।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

श्वेता कोकाश की कविता का वाचन बहुत बढ़िया रहा!

arvind said...

खूबसूरत प्रस्तुति ! बधाई एवं शुभकामनायें

डॉ. मोनिका शर्मा said...

सुंदर शब्द और स्वर... आभार