Thursday, August 23, 2012

नन्ही कलाकार ...

आज मिलिए एक नन्ही कलाकार से ...


ये है- आर्या शुक्ला
कक्षा ५ वीं
कोलम्बिया कॉन्वेन्ट स्कूल
हॉबी- स्केटिंग, ड्राईंग,रीडिंग,कुकिंग......
और अब सुनिए आर्या की दमदार आवाज में पंद्रह अगस्त को दिया गया दमदार भाषण....



13 comments:

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

वन्दे मातरम! :)

Ramakant Singh said...

सचमुच दमदार और मीठी आवाज में स्वतंत्रता दिवस का स्वागत किया गया . बिटिया आर्या शुक्ला को बहुत सारी बधाई

वन्दे मातरम!

संजय भास्कर said...

प्रशंसनीय
आर्या शुक्ला को बहुत सारी बधाई !!

देवेन्द्र पाण्डेय said...

आर्या के ओजस्वी आह्वाहन ने प्रभावित किया। अशेष शुभकाणनाएँ।
....वंदे मातरम।

प्रवीण पाण्डेय said...

आर्या को ढेरों शुभकामनायें..

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

प्याली-प्याली गुलिया का प्याला-प्याला छंदेछ!!!

Shanti Garg said...

very good thoughts.....
मेरे ब्लॉग

जीवन विचार
पर आपका हार्दिक स्वागत है।

शिवम् मिश्रा said...

अपने देश के लोग तो शायद ही ऐसा करें जैसा चाइना के लोगो के बारे मे आर्या ने बताया ... :(

देश हमारे लिए न जाने क्यूँ सब से बाद मे आता है ... कोई माने न माने इस मे हमारे देश के मौजूदा नेता काफी हद तक जिम्मेदार है !

आर्या को हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !

वन्दे मातरम !

संगीता पुरी said...

बहुत बढिया ..

प्‍यारी प्‍यारी आर्या को बहुत बहुत आशीष ..

Vaaridhi Pathak said...

आएसे दमदार सोच एवं ओज वाले नन्हे सपूतों के हाथ देश सुरक्षित हैं....

Prabuddh Dubey said...

हवाई यात्रा के दौरान चीन का यह वाक्या वास्तव में अपने देश के प्रति आदर, ज़िम्मेदारी और प्रेम पैदा करता है. नन्ही आर्या की आवाज़ में यह और भी प्रभावशाली लगा. बहुत हर्ष हुआ आर्या तुम्हारी आवाज़ में यह सुनकर, हमें गर्व है तुमपर....
आर्या शुक्ला को बहुत सारी शुभकामनायें
वन्दे मातरम!

Padm Singh said...

अद्भुद है आर्या... अपनी इस योग्यता पर ध्यान दो ... बहुत आगे जाओ हमारी कामना है ईश्वर से

Padm Singh said...

अद्भुद है आर्या... अपनी इस योग्यता पर ध्यान दो ... बहुत आगे जाओ हमारी कामना है ईश्वर से