Monday, May 13, 2013

अहसासों के पंख...एक ब्लॉग नया सा ...

एक परिचय शरद कुमार जी और उनके ब्लॉग से --
कुछ शेर बेटी के नाम
एक मासूम सा ख्वाब
और
माँ

ये रचनाएं हैं शरद कुमार जी के ब्लॉग अहसासों के पंख से ..



3 comments:

Ramakant Singh said...

शरद जी को आपके साथ बधाई सुन्दर भावमय लेखन और वाचन के लिए
सुप्रभात अक्षय तृतीया की शुभकामनाओं सहित

jyoti khare said...

शरद जी को पढवाने का आभार
आपके सार्थक काम को साधुवाद



पढ़ें "अम्मा"
आग्रह है मेरे ब्लॉग का भी अनुसरण करे
http://jyoti-khare.blogspot.in


अनूप शुक्ल said...

सुन्दर पाडकास्टिंग!